Monday, April 15, 2024
क्षेत्रीय ख़बरें

श्रीमद्भागवत कथा के छठे दिन भगवान श्रीकृष्ण की बाललीला का वर्णन सुन भाव विभोर हुए स्रोता

बस्ती। उर्मिला एजुकेशनल एकेडमी में चल रही श्रीमद्भागवत कथा में रविवार को छठे दिन कथा व्यास राघवाचार्य जी ने भगवान श्री कृष्ण बाल लीला, माखन चोरी व गोवर्धन पूजा के प्रसंग का कथा में वर्णन किया। उन्होंने कहा कि कृष्ण ने बृजवासियों को मूसलाधार बारिश से बचाने के लिए सात दिन तक गोवर्धन पर्वत को अपनी सबसे छोटी उंगली पर उठाकर रखा और गोप-गोपिकाएं उसकी ओट में सुखपूर्वक रहे।
भगवान ने गोवर्धन को नीचे रखा और हर वर्ष गोवर्धन पूजा करके अन्नकूट उत्सव मनाने की आज्ञा दी। तभी से यह उत्सव अन्नकूट के नाम से मनाया जाने लगा। इसके बाद. महाराज जी ने श्रीकृष्ण भगवान के माखन चोरी की कथा सुनाई। कथा सुनकर प्रभु भक्त भाव विभोर हो गए। श्री कृष्ण की माखन चोरी की लीला का वर्णन करते हुए कहा कि जब श्रीकृष्ण भगवान पहली बार घर से बाहर निकले तो उनकी बृज से बाहर मित्र मंडली बन गई। सभी मित्र मिलकर रोजाना माखन चोरी करने जाते थे। सब बैठकर पहले योजना बनाते कि किस गोपी के घर माखन की चोरी करनी है।
श्रीकृष्ण माखन लेकर बाहर आ जाते और सभी मित्रों के साथ बांटकर खाते थे। भगवान बोले कि जिसके यहां चोरी की हो उसके द्वार पर बैठकर माखन खाने में आनंद आता है। माखन चोरी की लीला का बखान करते हुए उन्होंने भगवान कृष्ण के बाल रूप का सुंदर वर्णन किया। उन्होंने बताया कि भगवान कृष्ण बचपन में नटखट थे। भगवान श्रीकृष्ण की विभिन्न लीलाओं से वर्णन किया। तथा आज दिनांक 01/04/2024 दिन सोमवार को उद्धव चरित्र , कंस वध रूपमंधी विवाह फूलों की होली कथा , कथा व्यास स्वामी राघवाचार्य जी महाराज द्वारा सायंकाल 4 से प्रारंभ होगी भागवत कथा का कार्यक्रम उर्मिला एजुकेशनल एकेडमी रोडवेज बस्ती के प्रांगण में हो रहा है ।
मुख्य यजमान धीरेंद्र शुक्ला व बागेश्वरी शुक्ला रही। चंद्र भूषण मिश्रा, सतप्रकाश त्रिपाठी, विनय शुक्ल, डॉ राजन शुक्ला, अशोक कुमार पांडेय, प्रिंस शुक्ल, नरेंद्र सिंह मौजूद रहे।