Sunday, May 19, 2024
शिक्षा

परिषदीय विद्यालय के वार्षिकोत्सव में झूमा बचपनः दिया मतदाता जागरूकता का संदेश

बस्ती। हरैया विकासखण्ड के आदर्श प्राथमिक विद्यालय सकरदहा के परिसर में गुरुवार को वार्षिकोत्सव एवं मतदाता जागरूकता कार्यक्रम का आयोजन किया गया। कार्यक्रम का शुभारंभ नेशनल इंटर कॉलेज के सेवानिवृत्त प्रधानाचार्य डॉ रामनरेश सिंह मंजुल और खण्ड शिक्षा अधिकारी हरैया बड़कऊ वर्मा ने मां सरस्वती के चित्र पर माल्यार्पण व दीप प्रज्ज्वलित करके किया। विद्यालय के प्रधानाध्यापक डॉ योगेश कुमार सिंह की अगुवाई में विकासखण्ड के शिक्षकों ने आए हुए सभी अतिथियों का माल्यार्पण कर और स्मृति चिन्ह देकर स्वागत किया। विद्यालय की छात्राएं सोनाक्षी, परवाना, संध्या, अनु, लक्ष्मी, कोमल के द्वारा सरस्वती वंदना, स्वासिनी, लक्ष्मी, मानवी, उर्मी के द्वारा स्वागत गीत के साथ ही विराट, प्रांजल, नीतीश, अरुण, अनुज, सौरभ, समर, श्याम सुंदर, अंश पटेल आदि बच्चों द्वारा सोशल मीडिया का दुरुपयोग, नशा उन्मूलन, रानी लक्ष्मीबाई, वन है तो जीवन है, किसान गीत, होली गीत आदि एक से बढ़कर एक मनमोहक कार्यक्रम प्रस्तुत किए गए जो गुरुवार देर रात तक चलता रहा। बच्चों ने विभिन्न प्रस्तुतियों से प्रकृति व नारी शक्ति का महत्व बताया जिससे उपस्थित लोग एक से बढ़कर एक शानदार कार्यक्रम देखकर झूम उठे। अतिथियों ने संबोधित करते हुए कहा कि परिषदीय विद्यालय में इस तरह का कार्यक्रम अपने आप में एक मिशाल है। जिस तरह का कार्यक्रम देखने को मिला है वह किसी पब्लिक स्कूल से कम नहीं है। कार्यक्रम को डॉ रामनरेश सिंह मंजुल, प्रमुख केके सिंह, जय बक्श दास, योगेंद्र सिंह, वीरेन्द्र मिश्र, डॉ दीनानाथ पटेल, सुभाष चंद्र त्रिपाठी आदि ने सम्बोधित किया। विद्यालय के प्रधानाध्यापक डॉ योगेश कुमार सिंह और प्रधान प्रतिनिधि अशोक शुक्ल ने स्वागत भाषण कर सभी आगंतुकों का स्वागत किया। कार्यक्रम का संचालन शोभा शुक्ला, गिरिजेश बहादुर सिंह और सुभाष सिंह ने किया।
इस अवसर पर रामप्रताप सिंह, अखिलेश सिंह, धु्रव सिंह, सुभद्रा सिंह, डॉ अभय सिंह, विनोद प्रकाश वर्मा, अर्जुन सिंह, राम सिंह, रणधीर सिंह, सर्वदेव सिंह, डेविड सिंह, प्रमोद त्रिपाठी, रामसागर वर्मा, सत्यराम वर्मा, राजीव शरण, विद्यासागर, अविनाश सिंह, हरी सिंह, मानिकराम वर्मा, अखिलेश सिंह, अमरचंद वर्मा, रामतौल शर्मा, दिनेश मिश्र, नरेंद्र पाण्डेय, गुलाम अशरफ, राम जी वर्मा, जितेंद्र कुमार, शिवनारायण पाण्डेय, दुर्गेश सिंह, स्वामीनाथ शुक्ल, राज नारायण शुक्ल, बिंदू, मनीष, मुकेश, राजेश पाण्डेय, अनीता सिंह, नीलम ओझा, सरिता शुक्ला सहित बड़ी संख्या में शिक्षक, बच्चे एवं स्थानीय लोग मौजूद रहे।