Tuesday, April 16, 2024
देश

तमिलनाडु में पत्रकारों पर हुआ हमला लोकतंत्र के चौथे स्तम्भ पर आघात : बीएसपीएस

दिल्ली,1 मार्च 2024 (ब्यूरो) हमारे देश की सांस्कृतिक राजधानी तमिलनाडु को डीएमके सरकार ने दवा तस्कर का अड्डा बना दिया है। उक्त जानकारी देते हुए बीएसपीएस की राष्ट्रीय प्रवक्ता डॉ. इंदु बंसल के बताया कि डीएमके पदाधिकारी और अंतर्राष्ट्रीय ड्रग तस्कर जाफर सादिक और उनके भाई ₹2000 करोड़ से अधिक की सिंथेटिक दवाओं की तस्करी के आरोप में गिरफ्तारी से बचने के लिए भाग रहे हैं।
कल, गुजरात के तट पर, एनसीबी ने ₹1200 करोड़ मूल्य की ड्रग्स पकड़ी, जिसे तमिलनाडु से एक जहाज द्वारा उठाया जाना था। डॉ. बंसल ने कहा कि
तमिलनाडु के मुख्यमंत्री थिरु एमके स्टालिन का इस विषय पर नकारात्मक रवैये चल रहा है, मुख्यमंत्री ने कहा था कि वह ड्रग तस्करों की संपत्ति जब्त कर लेंगे, लेकिन इसके विपरीत, उनकी निगरानी में ड्रग तस्करों की संपत्ति में इजाफा ही हुआ है।
बीएसपीएस की राष्ट्रीय प्रवक्ता ने कहा की सबसे बढ़कर यह हुआ कि डीएमके के गुंडों ने गोपालपुरम वंशज के करीबी व्यक्ति डीएमके पदाधिकारी सीतारासु के स्वामित्व वाले सहारा कोरियर्स में एनसीबी की छापेमारी को कवर करने गए पोलीमेरन्यूज़ के संवाददाताओं पर हमला कर दिया जो लोकतंत्र के आधरभूत स्तम्भ पत्रकारिता पर हमला है साथ ही इस हमले से यह भी स्पस्ट हो जाता है कि सहारा कोरियर्स जाफ़र सादिक के लिए यह स्थान दवा वितरण का केंद्र था।
डॉ. बंसल ने कहा कि भारती श्रमजीवी पत्रकार संघ पत्रकारों के साथ हुए इस बर्बरतापूर्ण कृत्य की निंदा करता है।