Wednesday, February 28, 2024
बस्ती मण्डल

6 सूत्रीय मांगो को लेकर शिक्षा मित्रोें ने सांसद हरीश द्विवेदी को सौंपा ज्ञापन

बस्ती । रविवार को उत्तर प्रदेश प्राथमिक शिक्षा मित्र संघ प्रदेश नेतृत्व के आवाहन पर संघ जिलाध्यक्ष वीरेन्द्र कुमार शुक्ल के नेतृत्व में शिक्षा मित्रों ने सांसद हरीश द्विवेदी को उनके पैतृक गांव तेलियाजोत पहुंचकर 6 सूत्रीय मांग पत्र सौंपा। सांसद हरीश द्विवेदी ने कहा कि वे शिक्षा मित्रों की समस्याओं से अवगत हैं और इस विषय पर प्रधानमंत्री को पत्र लिखने के साथ ही लोकसभा में उठाऊंगा।
ज्ञापन सौंपते हुये संघ जिलाध्यक्ष वीरेन्द्र कुमार शुक्ल, मण्डल अध्यक्ष प्रवीन श्रीवास्तव ने सांसद को बताया कि पिछले 22 वर्षो से शिक्षा मित्रों शिक्षण कार्य कर रहे हैं, प्रदेश के लगभग 1 लाख 50 हजार शिक्षा मित्र घोर आर्थिक संकट का सामना कर रहे हैं, पिछले 6 वर्षो से मानदेय में कोई वृद्धि नहीं की गई है। आये दिन शिक्षा मित्रों की तनाव के कारण असामयिक मृत्यु हो रही है, ऐसे में आवश्यक है कि शिक्षा मित्रों की समस्याओं का प्रभावी निस्तारण कराया जाय।
सांसद को सौंपे 6 सूत्रीय ज्ञापन में शिक्षा मित्रोें को शिक्षक के रूप में समायोजित कर नियमित किये जाने, समायोजन प्रक्रिया पूर्ण होने तक 12 माह 62 वर्ष की सेवा सुरक्षित करते हुये सम्मानजनक वेतनमान दिये जाने, मृतक शिक्षा मित्रों के आश्रित परिजनों को जीविकोपार्जन के लिये नियुक्ति दिये जाने, टी.ई.टी. पास शिक्षा मित्रों को नियमों में शिथिलता देते हुये सहायक अध्यापक पद पर नियुक्ति दिये जाने, मूल विद्यालय में वापसी से वंचित शिक्षा मित्रों को पुनः अवसर देते हुये उन्हें मूल विद्यालय में वापस किये जाने, महिला शिक्षा मित्रों को विवाहोपरान्त उनको उनके ससुराल के समीप के विद्यालयों में तथा गैर जनपद में विवाहित महिला शिक्षा मित्रों को उनके ससुराल के जनपद में मांग के अनुसार स्थानान्तरित किये जाने आदि की मांग शामिल है। ज्ञापन में चेतावनी दिया गया है कि यदि मांगे पूरी न की गई तो आगामी 9 अक्टूबर सेे मांगो के समर्थन में राजधानी लखनऊ में डेरा डालो, घेरा डालों आन्दोलन छेड़ा जायेगा।
ज्ञापन सौंपने वालों में मुख्य रूप से संघ के प्रदेश कोषाध्यक्ष रमेश मिश्र, उत्तर प्रदेशीय प्राथमिक शिक्षक संघ जिलाध्यक्ष चन्द्रिका सिंह, उपाध्यक्ष सुधीर तिवारी, उमाकान्त शुक्ल, कोषाध्यक्ष दुर्गेश यादव, सुरेश गौड़, संजय यादव, दिनेश उपाध्याय, असद जमाल, वसीउल्लाह खान, वल किशोर वर्मा, भोला प्रसाद शुक्ल, रत्नेश चौधरी, राणा प्रताप सिंह, अश्विनी सिंह, सुरेन्द्र उपाध्याय, अनन्त पाण्डेय, सिराज अहमद, राम प्रकाश वर्मा, रमेन्द्र श्रीवास्तव, राजेन्द्र श्रीवास्तव, शिव कुमार चौधरी, सुशील चौधरी, तुलसीराम, राम प्रकाश वर्मा, राम सूरत चौधरी, धर्मेन्द्र पाठक, शिवशंकर साहू के साथ ही बड़ी संख्या में जनपद के शिक्षा मित्र, शिक्षक शामिल रहे।