Thursday, February 22, 2024
बस्ती मण्डल

पेंशन बहाल होने तक संघर्ष जारी रहेगा- उदय शंकर शुक्ल

बस्ती। पुरानी पेंशन योजना बहाली संयुक्त मंच के आवाहन पर उत्तर प्रदेशीय प्राथमिक शिक्षक संघ की बैठक सोमवार को प्रेस क्लब के सभागार में जिलाध्यक्ष उदय शंकर शुक्ल की अध्यक्षता में सम्पन्न हुई। बैठक में पुरानी पेंशन नीति बहाल किये जाने के एक सूत्रीय मांग को लेकर आगामी 10 अगस्त को रामलीला मैदान नई दिल्ली में आयोजित होने वाली महारैली में हिस्सेदारी पर विचार विमर्श किया गया। बैठक में उपस्थित सभी ब्लॉक अध्यक्षों द्वारा महारैली को सफल बनाने की रणनीति साझा करते हुए बताया गया कि फैजाबाद और बस्ती से ट्रेन के माध्यम से 9 अगस्त को ब्लॉको से बड़ी संख्या में शिक्षक महारैली में शामिल होने के लिए रवाना होंगे। सभी ब्लॉक अध्यक्षों द्वारा लिखित रूप से ट्रेन संख्या और चलने वाले शिक्षकों की संख्या बताई गई।

बैठक में प्राथमिक शिक्षक संघ के जिलाध्यक्ष उदय शंकर शुक्ल ने कहा कि पेंशन प्रत्येक शिक्षक और कर्मचारी का अधिकार है। इस अधिकार को लेने के लिए सभी शिक्षक और कर्मचारी आरपार की लड़ाई के लिए एकजुट हैं। कहा कि 10 अगस्त को दिल्ली में होने वाली महारैली में सरकार को शिक्षकों और कर्मचारियों की ताकत का एहसास होगा। जब तक उनकी पुरानी पेंशन बहाली की मांग पूरी नहीं होगी, संघर्ष जारी रहेगा। उन्होंने कहा कि बस्ती से कुल 600 परिषदीय शिक्षक महरौली में शामिल होंगे।
राघवेंद्र प्रताप सिंह, अभय सिंह यादव, विजय प्रकाश चौधरी, शैल शुक्ल, देवेंद्र वर्मा, दिवाकर सिंह, सन्तोष कुमार शुक्ल, इंद्रसेन मिश्र, रीता शुक्ल, रामपाल चौधरी आदि ने संबोधित करते हुए कि पुरानी पेंशन बहाली की मांग पूरे देश में जोर शोर से चल रही है जिसके परिणाम स्वरूप कई राज्यों द्वारा पुरानी पेंशन बहाल किया गया किन्तु तमाम राज्यों और केंद्र सरकार द्वारा इस दिशा में कोई कदम नहीं उठाया गया जिसके फलस्वरूप पूरे देश के शिक्षक और कर्मचारी 10 अगस्त को महारैली के लिए मजबूर हैं और जब तक पुरानी पेंशन नहीं बहाल नही होगी लड़ाई जारी रहेगी। बैठक के अंत में जिलाध्यक्ष उदय शंकर शुक्ल ने बताया कि जनपद में लगभग 500 शिक्षकों का चयन वेतनमान अगस्त में लगना है उन सभी का औपचारिकता पूर्ण कराकर अगस्त में ही चयन वेतनमान लगवा दिया जायेगा।
बैठक में सतीश शंकर शुक्ल, सूर्य प्रकाश शुक्ल, विवेक कान्त पाण्डेय, रवीश कुमार मिश्र, राजीव पाण्डेय, नरेंद्र द्विवेदी, सुनील पाण्डेय, दिनेश वर्मा, राजेश चौधरी, राहुल उपाध्याय, मारूफ खान, देवेंद्र तिवारी, रवीन्द्र नाथ, त्रिलोकी नाथ, विनय कुमार, अश्वनी कुमार पाण्डेय, भैयाराम राव, आशुतोष पाण्डेय, ज्योति सहित बड़ी संख्या में शिक्षक मौजूद रहे।