Monday, June 3, 2024
बस्ती मण्डल

श्रद्धा, सम्मान एवं हर्षोल्लास के साथ मनायी गयी राष्ट्रपिता महात्मा गांधी एवं लाल बहादुर शास्त्री की जयंती

संतकबीर नगर।जीतेन्द्र पाठक | 02 अक्टूबर, राष्ट्रपिता महात्मा गांधी एवं इमानदारी एवं सादगी के प्रतिमूर्ति लाल बहादुर शास्त्री की जयंती जनपद में सोशल डिस्टेंसिंग को ध्यान में रखते हुये श्रद्धा, सम्मान एवं हर्षोल्लास के वातावरण मे मनायी गयी। जनपद न्यायाधीश नें जनपद न्यायालय में ध्वजारोहण करते हुये उपस्थित लोगों को देश की एकता एवं अखंडता की शपथ दिलायी। विकास भवन पर मुख्य विकास अधिकारी एवं पुलिस अधीक्षक कार्यालय में पुलिस अधीक्षक द्वारा ध्वजारोहण तथा देश की एकता एवं अखंडता का संकल्प दिलाया गया।
कलेक्ट्रेट परिसर में जिलाधिकारी दिव्या मित्तल नें राष्ट्रीय ध्वज फहराया। राष्ट्रगान के बाद लोगों को देश की एकता, अखण्डता एवं अहिंसा की शपथ दिलायी गयी। जिलाधिकारी नें महात्मा गांधी एवं लाल बहादुर शास्त्री के चित्र पर माल्यार्पण कर नमन करते हुये श्रद्धासुमन अर्पित किया।
इस अवसर पर कलेक्ट्रट सभागार में आयोजित विचार गोष्ठी में उपस्थित अधिकारियों/ कर्मचारियों, समाजसेवियों, पत्रकारों को गांधी जयन्ती के पावन अवसर पर बधाई एवं उनके पधारने का धन्यवाद ज्ञापित करते हुये जिलाधिकारी दिव्या मित्तल नें अपने सम्बोधन में कहा कि राष्ट्रपिता महात्मा गांधी जी एवं लाल बहादुर शास्त्री जी के सिद्धान्तों एवं आदर्शों के व्यहारिक पक्ष को आत्मसात करना ही उनके प्रति हम सबकी सच्ची श्रद्धांजलि होगी। उन्होंने गांधी जी के अहिंसात्मक नेतृत्व शैली एवं शास्त्री जी के आत्मबल पर प्रकाश डालते हुये उपस्थित लोगों से आज के दिन इन महापुरुषों की जीवन शैली से कम से कम एक सीख लेकर उसे अपनी आदत में लाने की अपील भी की।
इस दौरान वक्तागणों ने गांधी जी एवं शास्त्री जी के कर्मों, सिद्धान्तों और उनकी सरल जीवन शैली पर विभिन्न तरीकों से अपने विचार व्यक्त किये। वरिष्ठ समाज सेवी शिव कुमार गुप्ता, सुभाष शुक्ला, पत्रकार पवन श्रीवास्तव सहित अन्य वक्ताओं ने महात्मा गांधी एवं लाल बहादुर शास्त्री के विचारों में अहिंसात्मक दृढ़ता आदि पर अपने विचार व्यक्त करते हुये वर्तमान परिप्रेक्ष्य में इसकी प्रासंगिकता की आवश्यकता पर जोर दिया।
वक्ताओं ने जनपद में प्रथम महिला जिलाधिकारी के रूप में तैनाती एवं उनकी पारदर्शी, समभाव एवं विकासोन्मुखी कार्य अंदाज के प्रति दिव्या मित्तल का स्वागत एवं आभार व्यक्त करते हुये जनपद को विकास की नई उंचाइयों तक ले जाने की अपेक्षा भी व्यक्त किया।
समारोह के उपरान्त जिलाधिकारी दिव्या मित्तल नें कलेक्ट्रेट परिसर में वृक्षारोपण किया। उसके पश्चात शहर में पैदल भ्रमण करते हुये खासकर उन महिलाओं को जिन्होंने मास्क लगाया था, को गुलाब का पुष्प भेंट करते हुये उनका स्वागत किया तथा दूसरे लोगों के भी मास्क का प्रयोंग करने एवं कोविड-19 संक्रमण से बचने हेतु जागरूक करने को प्रेरित किया।
पैदल भ्रमण के दौरान बिना मास्क के लोगों के मास्क देते हुये घर से बाहर अनिवार्य रूप से इसका प्रयोग करने एवं आगे से बिना मास्क लगाये पाये जाने पर जुर्माना लगाने की भी चेतावनी दिया।
इस अवसर पर नगर पालिका सहित सभी स्थानीय निकायों में साफ-सफाई का कार्य कराया गया। विभिन्न कार्यक्रमों के दौरान स्काउड गाइड की भूमिका सराहनीय रही। कबीर जन सेवा संस्थान एवं व्यापार मण्डल खलीलाबाद द्वारा मरीजों में फल आदि का वितरण किया गया।