Saturday, June 1, 2024
बिज़नेस

अवैध तरीके से हो रहा खादी नाम का इस्तेमाल, KVIC के दबाव के बाद इन कंपनियों ने हटाए जाली खादी उत्पाद

नयी दिल्ली। खादी एवं ग्रामोद्योग आयोग (केवीआईसी) के प्रयासों से अमेजन, फ्लिपकार्ट, स्नैपडील और अन्य ई-कॉमर्स कंपनियों ने अपने मंच से ‘खादी’ ब्रांड नाम से उत्पाद बेचने वाले 160 से अधिक वेब लिंक हटा दिए हैं। केवीआईसी ने शनिवार को यह जानकारी दी। केवीआईसी ने खादी इंडिया ब्रांड नाम से अपने उत्पादों की बिक्री करने वाली करीब 1,000 कंपनियों को कानूनी नोटिस जारी किया था। केवीआईसी का कहना था कि इससे उसकी छवि को नुकसान पहुंच रहा है तथा खादी कामगार भी प्रभावित हो रहे हैं।

एक बयान में कहा गया है, ‘‘केवीआईसी के नोटिस के बाद खादी ग्लोबल ने अपनी वेबसाइट का इस्तेमाल बंद कर दिया है और साथ ही ट्विटर, फेसबुक व इंस्टग्राम से अपने सोशल मीडिया पेज हटा दिए है। साथ ही उसने इस ब्रांड नाम की सभी सामग्री तथा उत्पाद हटाने के लिए 10 दिन का समय मांगा है।’’ केवीआईसी ने कहा कि उसकी कार्रवाई के बाद देशभर में जाली खादी उत्पाद बेचने वाले कई स्टोर बंद हुए हैं। बयान में कहा, ‘‘केवीआईसी के दबाव के बाद अमेजन, फ्लिपकार्ट, स्नैपडील और अन्य ने खादी ब्रांड नाम से उत्पाद बेचने वाले 160 से अधिक वेब लिंक हटाए हैं।’’ इन ई-कॉमर्स पोर्टल पर खादी मास्क, हर्बल साबुन, शैंपू, कॉस्मेटिक्स, हर्बल मेहंदी, जैकेट, कुर्ता और कई अन्य उत्पाद बेचे जा रहे थे।