Sunday, April 14, 2024
Others

विद्यालय के रसूख के आगे कार्यवाही से पीछे हट रहे बीएसए

हर्रैया। गौर विकास क्षेत्र के पूरा पैकोलिया स्थित अवैध रूप से जमीन कब्जा कर तथ्यों को छिपा कर मान्यता लेकर अवैध रूप से संचालित किये जा रहे ग्लोबल एमपीएस स्कूल के मामले में मान्यता प्रत्याहरण के लिए कार्यवाही के अपने ही आदेश पर बेसिक शिक्षा अधिकारी बस्ती कार्यवाही से पीछे हट रहे हैं और पूछे जाने पर राजस्व का मामला कह कर मामले को टालने का प्रयास कर रहे हैं । बता दें कि बीते 16 मार्च को बेसिक शिक्षा अधिकारी बस्ती अरुण कुमार द्वारा ग्लोबल एमपीएस स्कूल के मामले में आदेश दिया गया था कि विद्यालय के प्रबंध तंत्र द्वारा तथ्यों को छिपाकर मान्यता प्राप्त किया गया है जिसको लेकर चल रहे शैक्षिक सत्र 2019-20 में पढ़ रहे छात्रों के हितों को देखते हुये सत्र के समापन के बाद नये सत्र एक अप्रैल 2020 से मान्यता समिति के समक्ष पत्रावली प्रस्तुत कर मान्यता हत्याहरण की कार्यवाही की जाएगी । जिससे 2020-21 में विद्यालय का संचालन ना हो सके और विद्यालय के संचालन को अमान्य घोषित किया जा सके। इस तरह से वाद का निस्तारण किया गया पर और सम्बन्धित उच्चाधिकारियों को सूचित भी किया पर नया सत्र शुरू हुए करीब 8 माह बीतने को है विभाग द्वारा विद्यालय पर कार्यवाही को छोड़ें एक नोटिस तक भी नहीं दिया गया । वहीं विद्यालय प्रबंध तंत्र धड़ल्ले से नए सत्र की शुरुआत कर ऑनलाइन शिक्षा के माध्यम से शिक्षकों व विद्यालय में पढ़ रहे छात्र छात्राओं का शोषण करने में जुटा हुआ है और लगातार शैक्षणिक कार्य चला रहा है । इस संबंध में जब बेसिक शिक्षा अधिकारी बस्ती अरुण कुमार से बात हुई तब उन्होंने बताया कि मामला राजस्व का है और संबंधित उप जिलाधिकारी इस पर जांच कर रहे हैं । वहीं पत्रावली मेरे समक्ष नहीं है पत्रावली देखने के बाद कार्यवाही की जाएगी ।