Tuesday, June 25, 2024
बस्ती मण्डल

जर्नलिस्ट के साथ मारपीट की घटना का ग्रापए ने किया निंदा

बांसी/सिद्धार्थनगर। त्तीसगढ़ के बस्तर जनपद के कांकेर शहर में पत्रकारों को कुछ गुंडों ने सड़क पर दौड़ा कर पीटा है। एक पत्रकार का गला रेतने की कोशिश भी की गई। इस घटना को लेकर ग्रामीण पत्रकार एसोसिएशन बांसी ने कडे शब्दों मे निंदा की है ।सोमवार को हुई बैठक मे संघ के तहसील अध्यक्ष षष्टभुजा शुक्ला (गुड्डू बाबा) की अध्यक्षता में ग्रापए के कैंप कार्यालय के बैठक मे शुक्ला ने कहा कि लोकतंत्र के चौथे स्तंभ के ऊपर हुआ कातिलाना हमला शासन प्रशासन व छत्तीसगढ़ सरकार की नाकामी को उजागर कर रहा है। अब आवश्यक हो गया है कि पत्रकारों की सुरक्षा के लिए केंद्र सरकार एक आयोग बनाए ।जिसमे ऐसे लोगों पर राष्ट्रद्रोह का मुकदमा दर्ज कर सख्त कार्यवाही की जाए। संरक्षक पत्रकार राजेंद्र दुबे ने कहा आखिर कलम के सिपाहियों को कब तक यह अन्याय बर्दाश्त करना पड़ेगा। उदय भान पाठक ने कहा केंद्र सरकार इस पर कोई सार्थक पहल करें ताकि दोबारा ऐसी घटना घटित ना होने पाए। बैठक में उपस्थित पत्रकार रितेश बाजपेई, सुभाष चंद्र पांडे,सोहराब अली, मोहम्मद इरफान वाकर, शैलेंद्र पंडित, देवेंद्र धर द्विवेदी, पतित पावन मणि त्रिपाठी, जय गोविंद साहू अवधेश दूबे आदि पत्रकारों ने एक सुर से घटना की निंदा की है।