Saturday, July 20, 2024
बस्ती मण्डल

अधिवक्ता श्रवण अग्रहरि की स्व मां के ब्रह्मभोज मे पहुंच सूर्या के एमडी ने अर्पित किया श्रद्धा सुमन

संतकबीरनगर। समाज के हर तबके के सुख दुख कासहभागी बनने का सूर्या के एमडी डा उदय प्रताप चतुर्वेदी का अंदाज भी निराला है। बात जब अपनों की हो तो उनकी संवेदना खुद ब खुद उनकी कार्यप्रणाली से झलकती नजर आ जाती है। शनिवार को शिक्षक दिवस जैसे महत्वपूर्ण पर्व पर अपने व्यस्ततम समय के बाद अपनों की खुशियों का साक्षी बन कर उनकी खुशियों मे चार चांद लगाने के बाद अपने करीबी वाणिज्य कर अधिवक्ता श्रवण अग्रहरि की स्व मां के ब्रह्मभोज कार्यक्रम मे शामिल होकर उन्हें श्रद्धांजलि देने का अवसर नही चूके। जिले मे सामाजिक सहभागिता के अग्रदूत सूर्या के एमडी डा उदय प्रताप चतुर्वेदी ने शनिवार की शाम मुखलिसपुर स्थित अधिवक्ता श्रवण अग्रहरि की स्व माता के ब्रहमभोज कार्यक्रम मे पहुंचे। उन्होंने मृतक आत्मा को श्रद्धांजलि अर्पित करने के बाद कहा कि आत्मा नश्वर है। जो भी इस सृष्टि मे आया है उसे जाना ही पड़ता है। यही सृष्टि की संरचना है। डा चतुर्वेदी ने कहा कि इन्सान जब अपने जीवन के महत्वपूर्ण पल को जी कर समाज के लिए अपना हर संभव योगदान देकर सृष्टि से विमुख होता है तो उसका जाना दुख के साथ ही सम्माननीय हो जाता है । श्रवण अग्रहरि की मां ने समाज और देश
के लिए एक ऐसा सपूत दिया है जो अपने जीवन काल मे समाज के हित के लिए ही जूझता नजर आता है। डा चतुर्वेदी ने ऐसी मृत आत्मा की शान्ति के लिए कामना भी किया। इस दौरान बसपा नेता नित्यानंद यादव, सपा महासचिव राजमन यादव, युवा समाजसेवी दानिश खान, छात्रसंघ अध्यक्ष सौरभ सिंह, अंकित पाल, रविन्द्र यादव, सुभाष तिवारी, मसलहूद्दीन, सुखई आदि लोग मौजूद रहे।