Sunday, March 3, 2024
बस्ती मण्डल

अकरम खान के बेटे के तहरीर पर दो लोगो के विरुद्ध कोतवाली पुलिस ने आत्महत्या के लिए उकसाने पर दर्ज किया मुकदमा

बस्ती। पूर्व मुतवल्ली अकरम खान की मौत के मामले में पुलिस ने घटना के 21 दिन बाद केस दर्ज किया है। बेटे अशरफ की तहरीर पर कोतवाली पुलिस ने दो लोगों को नामजद किया है। आरोप है कि इनके उकसाने के बाद अकरम ने स्वयं को बीते 19 सितंबर 23 को गोली मारकर जान दे दी थी। इस मामले में पुलिस को एक सुसाइड नोट मिला था। जिसमें दिल्ली निवासी एक शख्स का जिक्र कर उसका मोबाइल नंबर लिखा था। अकरम के बेटे की ओर से दी गई तहरीर के मुताबिक लालगंज थाना क्षेत्र के महसों कस्बा निवासी अब्दुला पुत्र अजीमुल्ला जो दिल्ली मे नाई की दुकान चलाता है। उसने ही अकरम की मुलाकात दिल्ली निवासी जोशुआ जेना से कराई जिसने अशरफ के पिता अकरम के साथ जालसाजी कर करोड़ों रूपये उनसे मकान व अच्छा पद दिलाने के नाम पर ऐंठ लिया था। उसने कई बार दिल्ली बुलाया और अकरम को फर्जी नियुक्ति पत्र थमा दिया, जब अकरम को फर्जी लेटर की जानकारी हुई तो उन्होंने जोशुआ जेना से अपना पैसा मांगा और कहे कि मै बर्बाद हो जाऊंगा तो उसने कहा कि आत्महत्या कर लो या बर्बाद हो जाओ लेकिन मैं पैसा वापस नहीं करूंगा। इसी उकसावे के बाद अकरम ने खुद को गोली मार ली। बहरहाल कोतवाली पुलिस ने अब्दुल्ला निवासी महसो, लालगंज व नई दिल्ली के मकान नं. 316 थर्ड फ्लोर विलाल भाई पटेल हाउस रफी मार्ग पार्लियामेंट गली एरिया निवासी जोशुआ जेना के खिलाफ फ्राड करने व आत्महत्या करने के लिए उकसाने का केस दर्ज कर मामले की छानबीन शुरु कर दी है।