Monday, March 4, 2024
बस्ती मण्डल

लाशो के मिलने का सिलसिला जारी, शव बरामद

भानपुर, बस्ती (सचिन कुमार कसौधन) थाना क्षेत्र में ज्ञात अज्ञात लाशों के मिलने का सिलसिला जारी है। ताजा मामले में थाना क्षेत्र स्थित सरयू नहर खंड 4 (बड़ी नहर) में आज फिर एक लाश मिली है, जिसकी पहचान कोनहा थाना क्षेत्र के गांव बरगदवा निवासी 80 वर्षीय राजकुमारी पत्नी उमादत्त शुक्ला के रूप में हुई है। स्थानीय लोगों का कहना है कि सम्बन्धित क्षेत्र डेथ जोन बन चुका है। इलाके की हो या किसी गैर जनपद की, हत्या कर लाशों को यहां प्लान्ट किया जा रहा है। आंकड़ों पर गौर करें तो 1 साल के भीतर लगभग 10 किलोमीटर की दूरी पर एक-एक करके अब तक 6 लाश बरामद हो चुकी हैं। कभी कोई नहर में कूद कर सुसाइड कर ले रहा है, कभी लावारिस लाशें बहती हुई चली आ रही हैं तो कोई पारिवारिक कलह के अपनी जान दे रहा है। 5 जुलाई 2022 को 50 वर्षीय श्रवण पुत्र चतुरी, 21 अगस्त 2022 को पडिया निवासी राजू पुत्र राम जियावन, 24 जुलाई 2023 को लावारिस लाश जिसकी पहचान 20 दिन बाद बलरामपुर जनपद के शिवपूजन सोनी के रूप में हुई थी।
21 अगस्त 2023 को पारिवारिक कलह से रीता पत्नी गौतम नहर में कूद गयी थीं और आज इसी इलाके की रहने वाली राजकुमारी की लाश नहर में बहती हुई दिखाई दी। आपको बताते चलें ताजा मामले में थाना क्षेत्र रुधौली के भितेहरा, हनुमानगंज सरजू नहर खंड 4 में स्थानीय लोगों ने रुधौली पुलिस को सूचना देकर एक लाश बहने की जानकारी दी थी। सूचना पर पहुंचे रुधौली पुलिस ने लाश को स्थानीय लोगों की मदद से लाश को बाहर निकलवाया। परिजनों ने बताया कि मृतका मानसिक रूप से विक्षिप्त थी। फॉरेंसिक टीम ने मौके पर पहुंचकर साक्ष्य इकट्ठा किया। सवाल यह खड़ा होता है कि आखिर सरयू नहर खंड 4 में ही लाशें क्यों मिल रही हैं ? क्या हत्यारों के लिये यह इलाका सेफ जोन बन चुका है ?