Thursday, February 22, 2024
बस्ती मण्डल

जश्ने ईद मिलाद्दुनी नबी का प्रोग्राम शांति पूर्वक मनाया गया

नगर बाज़ार/बस्ती : पैगंबर इस्लाम ने बताया कि यह है दुनिया का सबसे अच्‍छा अमल, इंसानियत,अख्लाक और तालीम। इस्लाम में इन पर अमल करने की खास हिदायत दी गई है। मजहबी तहजीब और उसूलों के साथ इनको जिंदगी में उतारने की हिदायत दी है।यही हिदायत पैगंबरे इस्लाम हजरत मोहम्मद (सल) ने तमाम जिंदगी फरमाई। उनकी जिंदगी का हर लम्हा लोगों को सही रास्ता दिखाने में बीता। आज उनकी यौमे पैदाइश का जश्न मनाने का मकसद भी यही है कि इस्लामी उसूलों पर चलकर मुसलमान अपनी जिंदगी को खुशगवार बनाएं।इस्‍लामी तहजीब को अपनाने की हिदायत दी।
यह हकीकत है कि रसूले इस्‍लाम ने अपने मानने वालों को तालीम के साथ मजहबी पाबंदियों का भी पैगाम दिया। *इंसानियत के लिए अख्‍लाक की ताकीद की*
फरमाया कि इस कायनात में बसने वाले सब इंसान भाई-भाई हैं, दूसरे किसी को कैसी भी तकलीफ देना जायज नहीं। उन्होंने ही लोगों से बेहतर बर्ताव करने की हिदायत दी। फरमाया कि इस्‍लाम किसी का दिल तोड़ने की इजाजत नहीं देता। रसूल की जिंदगी में अपने बड़ों के साथ अख्‍लाक का किरदार भी मिलता है। यही वजह है कि आपकी जिंदगी तमाम आलम के लिए बेहतरीन नमूना है। अल्‍लाह तआला ने अपने बंदों के लिए आपकी जिंदगी को मॉडल बना दिया। आपकी पैदाइश से पहले अरब मुल्‍कों में लड़कियों के पैदा होने पर उन्हें जिंदा दफनाने का दस्‍तूर था। आपकी हिदायत से ये दस्‍तूर न सिर्फ खत्‍म हुआ, बल्कि औरतों को उनका वाजिब हक दिलाने की भी शुरुआत पैगंबरे इस्‍लाम ने ही की।
पैगंबरे इस्‍लाम के जन्‍मदिन पर इन बातों को दोहराने और उनके उसूलों पर चलने का संकल्‍प लेने की जरूरत है। सफाई, तालीम और गरीब बेसहारा लोगों की मदद करने की हिदायत दी।
ईद मिलाद-उन-नबी पैगंबर मुहम्‍मद साहब के जन्‍मदिन का जश्‍न
ये मुसलमानों के दीन से जुड़ा मामला है। मदरसा नगर बाजार शमशुदीन निजामी ने बताया कि यह पर्व ईदों की ईद है। पैगम्बर हजरत मोहम्मद साहब ने इंसानों को जीने का तरीका बताया। लोगों को सही रास्ते पर चलने की तालीम दी। यह त्योहार हमारे लिए खास है। इस दिन इंसानों के रहनुमा भेजे गए इसलिए खुदा ने हमें बेहतरीन उम्मत के खिताब से नवाजा।भूखों को खाना खिलाना और गरिबों की मदद कर। लोगों की भलाई करें।
इस अवसर पर गुलाम सरवर, वसीम, नूरानी, शमशुल हुदा, कमरूल हुदा मोहम्मद अकरम, सरवर आलम, मोहम्मद शकील, मास्टर खुशहाल, मास्टर सुहेल के साथ सम्मानित ग्रामवासी रहे मौजूद।
इसी दौरान नगर बाजार,गोटवा,कुंडी, कटरी, मरवटीया,पोखरनी,मदारपुर, विरउपुर, बक्सर ,कोठवा भरतपुर, राजली, पिपरागौतम, टेमा शांति पूर्वक घरों मस्जिदों,और पर आपसी भाई चारे के साथ जश्ने ईद मिलाद्दुनी नबी का प्रोग्राम शांति पूर्वक मनाया गया।
थाना प्रभारी संतोष कुमार, उप निरीक्षक फखरे आलम खान, अमित कुमार यादव मय पुलिस फ़ोर्स के साथ रहे मौजूद।