Friday, February 23, 2024
बस्ती मण्डल

वेद से निःस्वार्थ भाव से कर्म करने की प्रेरणा मिलती है-आचार्य बृजेश

बस्ती। आर्य समाज नई बाजार बस्ती द्वारा राजा बाजार बस्ती में आयोजित आठ दिवसीय वेद कथा का प्रारंभ आचार्य देवव्रत आर्य के ब्रह्मत्व में वैदिक यज्ञ से हुआ। इस अवसर पर सबको नए यज्ञोपवीत दिए गए। इस अवसर पर आचार्य बृजेश वैदिक प्रवक्ता अलीगढ़ ने बताया कि वेद सब सत्य विद्याओं की पुस्तक है। वेद का पढ़ना पढ़ना और सुनना सुनाना सब मनुष्यों का परम धर्म है। वेदो का ज्ञान होता तो देश में इतनी अशान्ति न होती। वेद से निःस्वार्थ भाव से कर्म करने की प्रेरणा मिलती है।
वेद ज्ञान के अभाव में देश के लोग भांति-भांति के देवी-देवताओं के चक्कर में
पड़ कर ठगे जा रहे है। हमारे महापुरूष श्री राम और कृष्ण वेद पथ पर
चलने वाले थे जिससे हमारे देश का नाम विश्व में एक आदर्श राष्ट्र के रूप
में जाना जाता हैै। सुल्तानपुर से पधारे पंडित राम मगन ने अपने भजनोपदेश में कहा कि वेद ईश्वर के द्वारा प्रदत्त ज्ञान है।
मनुष्योंपयोगी समस्त ज्ञान-विज्ञान केवल वेद में ही देखने को मिलता हैै
और किसी भी धर्म ग्रंथ में नही है इसलिए वेद केवल भारत के लिए ही नही
बल्कि सम्पर्ण विश्व के मनुष्यों के लिए है। ओम प्रकाश आर्य प्रधान आर्य समाज नई बाजार बस्ती ने आमजनमानस से कथा में सपरिवार सम्मिलित होने का अनुरोध किया। इस अवसर पर अर्चना आर्य, कनचनलता आर्य, आनंदस्वरूप आर्य, रजनी आर्य ओमकार आर्य गणेश आर्य विश्वनाथ आर्य उपेंद्र आर्य विवेक आर्य नवल किशोर चौधरी रजनी मिश्रा राजेश मिश्रा, राधेश्याम आर्य, आशुतोष मोदनवाल सहित अनेक लोग उपस्थित रहे।