Friday, April 19, 2024
बस्ती मण्डल

टीकाकरण व गर्भवती की जांच के साथ हुआ गर्भनिरोधक का वितरण

संत कबीर नगर  (जितेन्द्र पाठक) | जिले में विलेज हेल्थ एण्ड न्यूट्रीशन डे ( वीएचएनडी ) के अवसर पर समस्त 218 केन्द्रों पर इसका आयोजन किया गया । इस दौरान कोविड सुरक्षा मानकों का पूरी तरह से ध्यान रखा गया, वहीं बच्चों को निमोनिया की वैक्सीन भी लगाई गई। महिलाओं को गर्भनिरोधक वितरित करने के साथ ही त्रैमासिक गर्भनिरोधक अन्तरा इंजेक्शन भी लगाए गए।

सीएमओ डॉ. हरगोविन्द सिंह के निर्देशन में जिले के 218 केन्द्रों पर आयोजित होने वाले वीएचएनडी सत्र कोविड-19 प्रोटोकाल का पूरी तरह से ध्यान रखा गया। इस दौरान केन्द्र पर आने वाली महिलाओं व बच्चों को हाथ धुलने तथा स्वच्छ रहने के तरीके भी बताए गए। कोरोना काल में वीएचएनडी पर शिथिल पड़ी गतिविधियां अब पूरी तरह से सामान्य हो गई हैं। अधिकारी वीएचएनडी सत्रों में पहुंचकर सुपरविजन भी कर रहे हैं। उप जिला प्रतिरक्षण अधिकारी (डीडीआईओ) डॉ. एके सिन्हा ने बताया कि इसके लिए पहले से ही तैयारियां की गई थीं। जिसका परिणाम रहा कि हर केन्द्र पर क्षेत्र की महिलाओं ने आकर सत्र का लाभ लिया। इस दौरान एएनएम, आशा कार्यकर्ता, आंगनबाड़ी कार्यकर्ता पूरी तरह से कोविड के प्रोटोकाल का अनुपालन करते हुए दिखे। निमोनिया का टीका भी बच्चों को लगाया गया। साथ ही साथ महिलाओं को गर्भनिरोधक भी वितरित किए गए। चयनित उपकेन्द्रों पर त्रैमासिक गर्भनिरोधक अंतरा भी लगवाया गया। वीएचएनडी में शामिल होने वाले सभी स्वास्थ्यकर्मियों को आवश्यक रूप से मास्क धारण करने और हाथों में दस्ताने पहनने के निर्देश है। एएनएम सरिता राय बताती हैं कि उपकेंद्रों और आंगनबाडी केंद्रों में आने वाले लाभार्थियों को भी समझाया गया था कि चेहरे पर मास्क या फिर कपडा बांधकर ही टीकाकरण के लिये पहुंचे। ऐसा न करने पर टीकाकरण संभव नहीं हो पायेगा। इसके साथ ही एक दूसरे से कम से कम दो गज की दूरी पर ही खडें हों।
बुधवार व शनिवार को होता है आयोजन
वीएचएनडी का आयोजन सप्ताह में दो बार बुधवार और शनिवार को किया जाता है। एएनएम, आशा व आंगनबाडी कार्यकर्ताओं की भागीदारी से आयोजित होने वाले इस सत्र में गर्भवती और बच्चों को टीके लगाकर प्रतिरक्षित किया जाता है। पांचवे शनिवार को वीएचएनडी सत्र का आयोजन नहीं किया जाता है।