Tuesday, February 27, 2024
बस्ती मण्डल

मध्यान्ह भोजन योजना की राशि न मिलने से शिक्षकों में रोषः सौंपा ज्ञापन

बस्ती । मंगलवार को उत्तर प्रदेशीय प्राथमिक शिक्षक संघ अध्यक्ष चन्द्रिका सिंह के नेतृत्व में शिक्षकों के प्रतिनिधि मण्डल ने जिलाधिकारी को सम्बोधित ज्ञापन प्रशासनिक अधिकारी को सौंपा। मांग किया कि मध्यान्ह भोजन योजना की समस्याओं का शीघ्र निस्तारण कराया जाय। यदि 10 अगस्त तक मध्यान्ह भोजन योजना की धनराशि उपलब्ध न कराया गया तो आगामी 11 अगस्त से शिक्षक अपने पास से धनराशि लगाना बंद कर देंगे।
ज्ञापन सौपने के बाद संघ जिलाध्यक्ष चन्द्रिका सिंह ने कहा कि परिषदीय विद्यालयों में मध्यान्ह भोजन योजना के अंतर्गत बच्चों को गर्म पका पकाया भोजन, फल व दूध देने की व्यवस्था की गई है। फरवरी माह से विभाग द्वारा कोई धनराशि विद्यालयों में नहीं भेजी गई। इससे परिषदीय विद्यालयों के शिक्षक अपने वेतन से ही मध्यान्ह भोजन योजना का संचालन कर रहे है। शिक्षकों द्वारा कई दुकानों पर भोजन बनवाने को लेकर समान मसाले तेल व अन्य वस्तुएं फल, सब्जियां उधार ही लिया जाता है तथा समय से धनराशि नः देने पर दुकानदार भी अब सामान देने से मना करने लगा है। मांग किया कि मध्यान्ह भोजन योजना की धनराशि परिषदीय विद्यालयों को उपलब्ध कराया जाय।
संघ के जिला मंत्री बालकृष्ण ओझा ने बताया कि ज्ञापन की प्रति मुख्य विकास अधिकारी, जिला बेसिक शिक्षा अधिकारी, जिला कोषागार अधिकारी, वित्त एवं लेखाधिकारी को इस आशय से दिया गया है कि मध्यान्ह भोजन योजना की धनराशि समय से उपलब्ध करा दिया जाय और उसे जांच के नाम पर लम्बित न किया जाय।
संघ के जिला कोषाध्यक्ष दुर्गेश यादव ने कहा कि जनपद में बेसिक शिक्षा विभाग को जून माह के प्रथम सप्ताह में ही शासन से धनराशि प्राप्त हो चुकी है परंतु विभाग की हीलाहवाली के कारण अभी तक धनराशि विद्यालयों तक नहीं पहुंचाई गई । हर बार यही होता है, जब भी धनराशि विभाग को प्राप्त होती है तो धनराशि भेजने की फाइल बी.एस.ए. कार्यालय, लेखा कार्यालय, सी.डी.ओ कार्यालय व ट्रेजरी में सत्यापन के नाम पर महीनों तक अटका पड़ा रहता है। इसका खामियाजा शिक्षकोें को भोगना पड़ता है। अब शिक्षक और आर्थिक भार वहन करने की स्थिति में नहीं है।
ज्ञापन सौंपने वालों में मुख्य रूप से सुधीर तिवारी, शिव प्रकाश सिंह, प्रवीन श्रीवास्तव, अखिलेश पाण्डेय, सुरेश गौड़, प्रताप नारायण चौधरी, अनिल पाठक, अमित सिंह, नन्दलाल, सनद पटेल, आशीष दूबे, गंगा प्रसाद, राम पियारे, रामभवन, उमाशंकर पाण्डेय के साथ ही संघ के अनेक पदाधिकारी, शिक्षक शामिल रहे।