Tuesday, February 27, 2024
बस्ती मण्डल

मणिपुर घटना के विरोध में कांग्रेस ने बापू प्रतिमा के समक्ष उपवास कर किया सत्याग्रह

बस्ती । शनिवार को प्रदेश नेतृत्व के आवाहन पर कांग्रेस नेताओं, कार्यकर्ताओं ने मणिपुर घटना के विरोध में गांधी कला भवन स्थित बापू प्रतिमा के समक्ष उपवास कर सत्याग्रह किया। कांग्रेस अध्यक्ष ज्ञानेन्द्र पाण्डेय ज्ञानू ने कहा कि मणिपुर हिंसा, 160 से अधिक लोगों की हत्या, महिलाओं पर बर्बर अत्याचार, हत्याचार, बलात्कार की स्थितियों के लिये मणिपुर के मुख्यमंत्री के साथ ही लगातार चुप्पी साधे रहने वाले देश के प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी भी जिम्मेदार हैं। मांग किया कि मणिपुर में तत्काल राष्ट्रपति शासन लगाकर हिंसक गतिविधियोें पर रोक लगायी जाय।
पूर्व विधायक अम्बिका सिंह, प्रवक्ता मो. रफीक खां, विश्वनाथ चौधरी, प्रेमशंकर द्विवेदी, बाबूराम सिंह, कौशल त्रिपाठी, शीतला शुक्ल, गिरजेश पाल आदि ने कहा कि जब मणिपुर सुलग रहा था, निर्दोषों का कत्लेआम हो रहा था उस समय देश के प्रधानमंत्री बूथ कार्यकर्ताओं को सम्बोधित कर रहे थे। यदि प्रधानमंत्री ने समय पर संज्ञान लेकर मुख्यमंत्री को पद से हटाया होता तो इतने निर्दोष न मारे जाते। मणिपुर में संविधान, कानून का राज खत्म हो चुका है और केन्द्र, राज्य की सरकार अपने जिम्मेदारियों से मुंह नहीं मोड़ सकती। कांग्रेस की सरकार होती तो अब तक दोषी सलाखों के पीछे होते। केन्द्र की मोदी सरकार ने देश के करोड़ों लोगों के विश्वास को धोखा दिया है। उन्हें संसद में पहुंचकर अपनी स्थिति स्पष्ट करनी चाहिये कि वे 79 दिनों तक खामोश क्यों रहे। क्या वे आदिवासियों महिलाओं के साथ हुई दरिन्दगी के वीडियो का इंतजार कर रहे थे। मणिपुर की घटना के लिये देश कभी भाजपा को माफ नहीं करेगा। कांग्रेस नेताओं ने कहा कि राहुल गांधी संसद के सदस्य तक नहीं हैं किन्तु वे मणिपुर पहुंचे और पीड़ितोें का दर्द साझा किया किन्तु देश के प्रधानमंत्री को अभी विदेश यात्रा और चुनाव तैयारियों से ही फुरसत नहीं मिली।
बापू प्रतिमा के समक्ष उपवास कर सत्याग्रह करने वालों में मुख्य रूप से सूर्यमणि पाण्डेय, अनिल कुमार भारती, भूमिधर गुप्ता, सुरेन्द्र मिश्र, देवी प्रसाद पाण्डेय, गंगा प्रसाद मिश्र, सतीश कुमार सिंह, विवेक श्रीवास्तव, चन्द्रशेखर वर्मा, अलीम अख्तर, शौकत अली ‘नन्हू’, नीलम विश्वकर्मा, ज्योति पाण्डेय, विनोद रानी आहूजा, नीलम चर्तुवेदी, अवधेश सिंह, पिन्टू मिश्र, आदित्य त्रिपाठी, जितेन्द्र सिंह, मो. सरवर अंसारी, डा. वाहिद सिद्दीकी, मो. अशरफ अली, मंजू पाण्डेय, मीरा सिंह, राजेन्द्र चौबे, लल्लू चौधरी, अनिल त्रिपाठी, रामधीरज चौधरी, राकेश चौधरी, रामजी शर्मा, रामबचन भारती, अतीउल्ला सिद्दीकी, गुड्डू सोनकर, करीम अहमद, पवन तिवारी, इन्द्रेश, तुलाराम पाण्डेय, राज बहादुर निषाद, अजमतुल्लाह, साधू पाण्डेय, वीरेन्द्र श्रीवास्तव, सभाजीत चौधरी, दीपक पाण्डेय, सर्वेश कुमार शुक्ला, सलाहुद्दीन वित्तन, शिव नरायन पाण्डेय, अमर बहादुर सिंह के साथ ही अनेक कांग्रेस पदाधिकारी, कार्यकर्ता शामिल रहे। उपवास के अन्त में कांग्रेस के समर्पित कार्यकर्ता सल्टौआ गोपालपुर ब्लाक के युवा कांग्रेस के ब्लाक अध्यक्ष हरिओम त्रिपाठी की करंट से मौत पर दुःख व्यक्त करते हुये दो मिनट का मौन रखकर श्रद्धा सुमन अर्पित किया गया।