Tuesday, April 16, 2024
बस्ती मण्डल

निजी अस्पतालों में भी होगी कोरोना की जांच

– स्वास्थ्य विभाग ने 15 अस्पतलों को उपलब्ध कराया एंटीजन किट
– लक्षण वाले व ऑपरेशन के मरीजों की तत्काल हो सकेगी जांच
बस्तीः जिले के निजी अस्पतालों में भी अब कोरोना की जांच होगी। स्वास्थ्य विभाग की ओर से शहर के 15 अस्पतालों को निशुल्क एंटीजन किट उपलब्ध कराई गई है। अस्पताल स्टॉफ को जांच के लिए प्रशिक्षित किया गया है। अस्पताल में आने वाले किसी मरीज में अगर कोरोना का लक्षण दिखता है या ऑपरेशन वाले केस की तत्काल जांच की जाएगी। जांच की रिपोर्टिंग कोरोना के कमांड कंट्रोल रूम को की जाएगी।
पिछले दिनों स्वास्थ्य विभाग ने प्राइवेट अस्पतालों के प्रबंधन के साथ बैठक की तथा उनके यहां आने वाले मरीजों की जांच के लिए उन्हें प्रेरित किया। उन्हें निर्देशित किया गया है कि कोरोना प्रोटोकाल के तहत ही मरीजों का इलाज करें। मरीज के परीक्षण के दौरान अगर किसी मरीज को तेज बुखार है, या उसकी सांस फूल रही है तो उसे तत्काल अन्य मरीजों से अलग कर एंटीजन जांच करें। अगर वह पॉजिटिव आता है तो तत्काल इसकी सूचना जिला कंट्रोल रूम और स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों को देकर मरीज को अस्पताल पहुंचाए।
एंटीजन किट की मदद से ऑपरेशन वाले मरीजों की जांच की जा सकती है। जांच रिपोर्ट निगेटिव आने पर ऑपरेशन वाली टीम खुद को सुरक्षित महसूस करेगी। एसीएमओ डॉ. फकरेयार हुसैन ने बताया कि सरकार की मंशा है कि ज्यादा से ज्यादा लोगों की जांच कर संभावित मरीजों की पहचान कर उनका इलाज कराया जाए। सरकारी अस्पतालों व स्वास्थ्य विभाग की टीम द्वारा प्रतिदिन लगभग एक हजार लोगों की सैम्पलिंग की जा रही है। कोरोना कॉल में निजी अस्पतालों में बड़ी संख्या में मरीज आ रहे हैं। एंटीजन जांच की सुविधा वहां उपलब्ध होने पर वह अपने यहां के संभावित मरीजों की जांच कर सकेंगे।
जानिए क्या है एंटीजन जांच
कोरोना की जांच तीन तरह से की जा रही है। आरटीपीसीआर जांच केवल मेडिकल कॉलेज के लैब में होती है तथा इसकी रिपोर्ट आने में कम से कम 48 घंटे लग जाते हैं। दूसरी जांच ट्रूनेट से जिला अस्पताल व बस्ती मेडिकल कॉलेज में हो रही है। इस जांच की रिपोर्ट आने में भी आठ से 10 घंटे और कभी-कभी 24 घंटे का समय लग जाता है। जांच की क्षमता भी काफी सीमित है। इसके विपरीत एंटीजन जांच किट के माध्यम से की जाती है। मरीज का सैम्पल लेने के लगभग 15 मिनट में इसका रिजल्ट आ जाता है। इस जांच में पॉजिटिव रिपोर्ट को सबसे सही माना जाता है। इमरजेंसी में जांच करने या किसी समूह की जांच कर तत्काल परिणाम जानने के लिए इस जांच का इस्तेमाल किया जाता है। यह जांच सरकारी अस्पतालों में पहले से हो रही है।
इन अस्पतालों को उपलब्ध कराई गई है किट
– भव्या मेडिकल सेंटर, मालवीय रोड
– नवयुग नर्सिंग होम, मालवीय रोड
– हड्डी अस्पताल, निकट एलआईसी, बस्ती
– पीएमसी, मालवीय रोड
– दिव्य आई एंड डेंटल केयर क्लीनिक, फौव्वारा तिराहा
– श्री कृष्णा मिशन हास्पिटल, बरगदवा
– बस्ती ट्रामा सेंटर
– अयोध्या आई हास्पिटल
– संतकबीर आई हास्पिटल
– नवज्योति आई हास्पिटल
– जेजे हास्पिटल, कैली रोड
– प्रकाश मेडिकल सेंटर, कैली रोड
– तथास्तु हास्पिटल
– लाइफ लाइन मेडिकल सेंटर, दक्षिण दरवाजा रोड
– केयर मल्टी स्पेशियलीटि हास्पिटल, दक्षिण दरवाजा