Tuesday, February 27, 2024
बस्ती मण्डल

स्मार्टफोन में डूब गया बचपन-चंद्र प्रकाश चौधरी

आधुनिक जीवन शैली में इंसान इतना व्यस्त है कि बच्चों को भी समय नहीं दे पा रहा है, इससे सबसे ज्यादा प्रभावित घर के नौनिहाल हो रहे हैं , वह लगातार पूरा दिन मोबाइल में डूबे रहते हैं अक्सर देखा जाता है कि मोबाइल के बगैर ना सोते हैं,ना खाते हैं ना ही दूध पीते हैं जो की बहुत ही चिचिंताजन है, यह समस्या वैश्विक स्तर पर है

इस चित्र में हमने एक छोटे बच्चे को मोबाइल प्रारूप में दूध पीता हुआ दिखाया है जो कि इस बात का परिचायक है कि बच्चे मोबाइल में किस कदर डूब रहे है,
और सामने एक हाथ के पंजा दिखाया है जो यह दर्शा रहा है कि बच्चों को मोबाइल फोन से दूर रखा जाए, अगर ऐसा नही होता है तो बच्चों का दिमाग रहे मकड़ी की जाले कितना संकुचित हो जाएगा, जो कि बच्चो को बहुत ही भयावह भविष्य की ओर अग्रसर करेगा,
और इससे बचने के लिए हमने पैर दिखाया है कि
जो यह दर्शा रहा है कि बच्चों को खेलने का अवसर परिवार के साथ मिले, जिससे बच्चों का सर्वांगीण विकास हो सके,
जिससे वे अपने अच्छे कर्म के पदचिन्ह संसार में छोड़ जाए, जो आने वाली पीढ़ी के लिए प्रेरणा प्रद रहे ।