Tuesday, June 25, 2024
बस्ती मण्डल

84 कोसी परिक्रमा मार्ग पूरा होने पर तेज होगा विकास- सन्तोष पाण्डेय

बस्ती । 84 कोसी परिक्रमा अयोध्या धाम के इतिहास से जुडा हुआ है, समय के साथ परिक्रमा मार्ग अनेक स्थानों पर बाधित हो गया किन्तु पूर्व की सरकारों ने कभी संत समाज की चेतना से जुड़े इस महत्वपूर्ण मार्ग की ओर ध्यान नहीं दिया। केन्द्र की मोदी और उत्तर प्रदेश की योगी सरकार ने इसके महत्व को समझा और अति शीघ्र 84 कोसी परिक्रमा मार्ग बनकर तैयार हो जायेगा । शुक्रवार को प्रेस क्लब सभागार में पत्रकारों से वार्ता करते हुये 84 कोसी परिक्रमा किसान सेवा ट्रस्ट के अध्यक्ष सन्तोष कुमार पाण्डेय ने कहा कि परिक्रमा मार्ग बस्ती और अयोध्या के बीच सेतु का कार्य करेगा। इससे सहज सम्पर्क के साथ ही विकास में भी तेजी आयेगी।

पत्रकारों से वार्ता के दौरान सन्तोष कुमार ने बताया कि 18 जून रविवार को 84 कोसी परिक्रमा के प्रथम पड़ाव स्थल छावनी के राम रेखा मंदिर पर किसान सन्त सम्मेलन का आयोजन किया गया है। कार्यक्रम में मुख्य अतिथि के रूप में छोटी छावनी के महंथ कमलनयन दास को आमंत्रित किया गया है। इसके साथ ही गोरक्षनाथ मंदिर के पुजारी रामेन्द्रनाथ, बड़ी संख्या में संत और क्षेत्रीय किसान हिस्सा लेंगे। बताया कि कार्यक्रम में संतों को किसानों द्वारा सम्मानित किया जायेगा और प्रधानमंत्री एवं उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ, सांसद हरीश द्विवेदी, विधायक अजय प्रताप सिंह से आग्रह किया जायेगा कि घोषित 84 कोसी परिक्रमा मार्ग समय सीमा के भीतर बनकर तैयार हो जाय। घोषणा से प्रसन्न क्षेत्र के लोग प्रधानमंत्री, मुख्यमंत्री के प्रति आभार ज्ञापन करेंगे। बताया कि कार्यक्रम के संयोजन का दायित्व पूर्व विधान परिषद सदस्य स्वर्गीय डा. वाई.डी. सिंह के सुपुत्र ई. श्वेतांक शेखर सिंह को सौंपा गया है।
प्रेस वार्ता में मुख्य रूप से कृष्ण प्रताप सिंह, अम्बिका सिंह, धर्मेन्द्र यादव, श्री प्रकाश पाठक, बब्लू यादव, राम जनम यादव, सतीश पाण्डेय, अमर प्रताप सिंह ‘मन्ने भैया’ आदि शामिल रहे।