Saturday, April 20, 2024
बस्ती मण्डल

अनाथ का घर बसा कर युवा समाजसेवी चंद्रेश्वर उर्फ गोलू सिंह ने पेश की मानवता की मिसाल

संतकबीर नगर:- दुनिया मे आज भी ऐसे लोग मौजूद है , जो केवल अपने लिए नही बल्कि औरों के लिए भी जीते है , इस बात का एक बड़ा उदाहरण शिवशंकर पुर गांव के रहने वाले युवा समाजसेवी चंद्रेश्वर सिंह उर्फ गोलू सिंह जी हैं ।आपको बताते चलें कि सालों पहले गोलू सिंह के परिवार को एक मासूम लावारिस हालत में मिला था, जिसे गोलू सिंह का परिवार अपने घर ले आया और पालन-पोषण किया ।
समय बीतता गया और वह मासूम धीरे-धीरे अपनी उम्र की दहलीज़ पार करता गया, और एक युवक के रूप में 28 वर्षीय वीर बन गया ।जी हां उस लावारिस मासूम का नाम वीरु है, युवा समाजसेवी गोलू सिंह ने वीरु की जिम्मेदारी एक परिवार के मुखिया के तौर पर निभाई है , और आज अपने नेतृत्व में वीरु को परिणय सूत्र में बँधवा दिया ।वीरु के और उसकी नई नवेली दुल्हन के रहने का भी प्रबंध किया ताकी नवविवाहित जोड़ा अपने जीवन की शुरुआत कर सकें विवाह में होने वाले सभी खर्चों को समाजसेवी गोलू सिंह ने स्वयं वहन किया ।गोलू सिंह ने बताया वीरु हमारे यहां रहता है और हमारे परिवार के एक सदस्य जैसा है अतः इसके विवाह की भी जिम्मेदारी भी हमारी ही थी , इस लिए हमने वीर के विवाह की जिम्मेदारी ली। यही पास में गांव में एक रिश्ता वीरु के लायक मैंने देखा और 22 वर्षीय मीना से वीर का विवाह आज करवा दिया इस विवाह समारोह में कन्या पक्ष के लोग और गांव के आसपास के लोग शामिल हुए बेहद सादगी पूर्ण हुए इस कार्यक्रम में सभी लोगों ने वर-वधू को उनके नवजीवन के खुशहाली के लिए शुभकामनाएं दी ।