Saturday, July 20, 2024
राजनैतिक

किसानों की आवाज को बुलंद करने अपने काफिले के साथ दिल्ली रवाना हुए भाकियू प्रदेशाध्यक्ष अनिल नांदल उर्फ बल्लू प्रधान

रोहतक|,  इन्दु/नवीन बंसल (राजनीतिक संपादक) तीन कृषि अध्यादेश के खिलाफ पूर्व घोषित कार्यक्रम के अनुसार आज किसानों की आवाज को बुलंद करने अपने काफिले के साथ भारतीय किसान यूनियन (अ) के प्रदेशाध्यक्ष अनिल नांदल उर्फ बल्लू प्रधान गांव बोहर से बुजुर्गों का आशीर्वाद लेकर रवाना हुए। दरअसल आज पूर्व प्रधानमंत्री स्वर्गीय लाल बहादुर शास्त्री की समाधि पर एक विशाल किसान सम्मेलन करने का आहवान किया हुआ था। लेेकिन इसी के चलते दिल्ली व हरियाणा पुलिस ने किसानों के काफिले को दिल्ली जाने से रोक दिया और वही भारतीय किसाान यूूूूनियन (अ) के राष्ट्रीय अध्यक्ष ऋषि पाल अंबावता को अलसुबह ही उनके फार्म हाउस से पुलिस ने गिरफतार कर लिया। जैसे ही यह सूचना भाकियू के प्रदेशाध्यक्ष बल्लू प्रधान के काफिले को मिली, तो उन्होंने अपने काफिले का रूख कुंडली बार्डर की तरफ कर दिया और वहां जाम लगा दिया। जाम लगाने से वाहनों की लंबी लंबी कतारे लगनी शुरू हो गई और भारी पुलिस बल तैनात किया गया। किसानों ने मांग की की वे उनके राष्ट्रीय अध्यक्ष को तुरंत रिहा करे, जब पुलिस ने किसानों की बात मानी और उनके राष्ट्रीय अध्यक्ष को रिहा किया। तब जाकर करीब दो घंटे बाद जाम खुल पाया। वहीं किसानों को सम्बोधित करते हुए बल्लू प्रधान ने कहा कि सत्ता के नशे में चूर मोदी सरकार ये बात याद रखे कि आपका अहंकार ही आपको ले डूबेगा। उन्होंने कहा कि देश व प्रदेश की भाजपा सरकार किसानों के आंदोलन को रोक नहीं सकती और जब तक कृषि अध्यादेश वापिस नहीं लिए जाते तब तक उनका आंदोलन न तो रूक सकता है ओर न ही किसान अब पीछे हटने वाला है। भाकियू प्रदेश अध्यक्ष ने कहा कि तीनों बिल किसान विरोधी है और यह किसानों को बर्बाद करने का काम करेंगे। साथ ही उन्होंने यह भी कहा कि किसानों , आढतियों की कई एसोसिएशन के विरोध के बावजूद जिस तरीके से सरकार ने तीन कृषि अध्यादेशों को पास करवाया है। उससे भाजपा का किसानों के प्रति चेहरा और नीति साफ हो चुकी है। यह सरकार सिर्फ पूजंपतियों की सरकार है। साथ ही उन्होंने पिछले दिनों हाथरस में हुई जघन्य घटना की कड़े शब्दों में निन्दा की और कहा कि हाथरस की बेटी के साथ हुई नाइंसाफी ने सारे देश को झकझोर कर रख दिया है। इस जघन्य घटना से साबित होता है कि आज देश व प्रदेश में बेटियां सुरक्षित नहीं है। उन्होंने कहा कि इस घटना में बेखौफ अपराधियों ने न सिर्फ मानवता की सारी हदें पार कर दी है और इस घटना से पूरे देश में गुस्से की लहर है। उन्होंने कहा कि यही गरीबों की हाय सरकार के कफ़न में कील का काम करेगी। इस मौके पर राष्ट्रीय महासचिव शमशेर सिंह दहिया, हरियाणा प्रदेश महासचिव दिलबाग सिंह हुड्डा, राष्ट्रीय उपाध्यक्ष सतवीर पुनिया व बलविंद्र बाजवा, जिले सिंह, फतेह सिंह सहित सैकड़ों की तादाद में कार्यकर्ता व किसान मौजूद रहे