Saturday, June 22, 2024
क्राइम

जानें कौन हैं हाथरस की बेटी के वो 4 गुनाहगार, जिन्होंने पार की हैवानियत की सारी हदें

हाथरस। यूपी के हाथरस में गैंगरेप का शिकार हुई 19 साल की दलित युवती ने 15 दिनों तक मौत से जंग लड़ते हुए दम तोड़ दिया। 29 सितंबर की सुबह दिल्ली के सफदरगंज अस्पताल में पीड़िता ने आखिरी सांस ली। पुलिस ने आधी रात में ही पीड़िता का अंतिम संस्कार भी कर दिया। पुलिस-प्रशासन का कहना है कि परिजनों की रजामंदी के बाद अंतिम संस्कार किया गया, जबकि परिजनों ने इस दावे को खारिज कर दिया है। इस पूरी घटना ने देशभर को झकझोर कर ​रख दिया है। पूरे देश में गुस्सा और उबाल है। सड़क से सोशल मीडिया तक पीड़िता को इंसाफ दिलाने के लिए आवाजें उठ रही हैं। इन सबके बीच एक सवाल जो सबके ​मन है कि आखिर कौन हैं वो दरिंदे, जिन्होंने इस जघन्य वारदात को अंजाम दिया। हम उन चारों आरोपियों के बारे में आपको बता रहे हैं, जिन्होंने युवती से न सिर्फ दरिंदगी की, बल्कि उसके साथ हैवानियत की हदें पार करते हुए उसकी गर्दन तोड़ी और जीभ भी काट दी।

आरोपी नंबर-1 पहले आरोपी का नाम संदीप है। संदीप की उम्र 22 साल है। वह 10वीं तक पढ़ा है और पल्लेदारी का काम करता है।

आरोपी नंबर-2 दूसरे आरोपी का नाम लवकुश है। लवकुश की उम्र 19 साल है। वह 12वीं तक पढ़ा है और खेती का काम करता है।

आरोपी नंबर-3 तीसरे आरोपी का नाम रामकुमार है। रामकुमार की उम्र 28 साल है। वह 10वीं तक पढ़ा है और बेरोजगार है।

आरोपी नंबर-4 चौथे आरोपी का नाम रवि है। रवि की उम्र भी 28 साल है। वह भी 10वीं तक पढ़ा है और प्राइवेट नौकरी करता है।