Tuesday, April 16, 2024
बस्ती मण्डल

ग्रामीण आईपीएल मे पहुंच डा उदय प्रताप चतुर्वेदी ने बढाया युवा प्रतिभाओं का हौंसला, किया पुरस्कृत

संतकबीरनगर।जितेन्द्र पाठक| अनुशासन, जुनून और हौसला ही खिलाडियों की प्रतिभा को निखारता है। खेल मे परिणाम से अधिक सहभागिता महत्वपूर्ण होती है। जीतने वाली टीम को अपना प्रदर्शन बरकरार रखने के लिए निरन्तर प्रयास करना चाहिए तो हारने वाली टीम को अपने प्रदर्शन को और बेहतर बनाने के लिए संघर्ष करते रहना चाहिए। उक्त बातें जिले के प्रमुख समाजसेवी एवं सूर्या इण्टरनेशनल एकेडमी के मैनेजिंग डायरेक्टर डा उदय प्रताप चतुर्वेदी ने रविवार को नाथनगर ब्लाक क्षेत्र के अजांव चौराहे पर आयोजित सिद्दिकी ओवर आर्म क्रिकेट प्रतियोगिता के समापन के अवसर पर मुख्य अतिथि के रूप मे संबोधित करते हुए कही ।
डा चतुर्वेदी ने कहा कि महुली क्षेत्र के लोगों मे खेल के प्रति दिख रहा जुनून ऐतिहासिक है। भविष्य मे यदि समय मिला तो इस क्षेत्र को एक शानदार ग्राउन्ड उपहार मे देने का प्रयास करूंगा। डा चतुर्वेदी ने मैच का लुत्फ उठा रहे हजारों दर्शकों की मौजूदगी को देख जिले का आईपीएल बताया। डा चतुर्वेदी ने विजेता टीम को 11 हजार और उप विजेता टीम को 6 हजार रूपये का नकद पुरस्कार दिया। इसके साथ ही मैन आफ द मैच और मैन आफ द सिरीज़ के खिलाडियों को भी नकद पुरस्कार देकर उत्साहित किया। सूर्या के व्यवस्थापक बलराम यादव ने गेंदबाजी तो डा चतुर्वेदी ने बल्लेबाजी करके और खिलाडियों से परिचय प्राप्त करके मैच का शुभारंभ किया। इससे पहले फाइनल मैच मे टास जीत कर पहले बल्लेबाजी करने वाली गोरखपुर के स्टार खिलाडियों से सुसज्जित जमशेद स्पोर्टिंग टीम के खिलाडियों ने निर्धारित ओवरों मे 83 रनों का स्कोर खड़ा किया। जबाब मे अकबरपुर के खिलाडियों से सजी एमडी आलम स्पोर्टिंग की टीम 9 विकेट खोकर 50 रन पर ही सिमट गई। जमशेद स्पोर्टिंग 30 रनों से विजेता घोषित की गई। प्रतियोगिता के समापन का शानदार संचालन अन्तर्राष्ट्रीय शायर असद महताब ने किया। प्रतियोगिता के संयोजक आफताब खान ने अतिथियों एवं खिलाडियों को धन्यवाद ज्ञापित किया। इस दौरान युवा समाजसेवी दानिश खान, ग्राम प्रधान यादवेश यादव उर्फ झाले, अब्दुर्रब खान, सौरभ सिंह, निहाल चन्द पाण्डेय, अमित शर्मा भोलू, अध्यक्ष नदीम सिद्दिकी, उपाध्याय बेलाल सिद्दिकी, कोषाध्यक्ष जमशेद सिद्दिकी, अब्दुल हई, सुखई, मसलहूद्दीन सहित तमाम लोग मौजूद रहे।