Sunday, April 14, 2024
बस्ती मण्डल

ज्ञापन देकर गरीबों ने लगाया न्याय की गुहार

बस्ती । मेहनत मजदूरी करके किसी तरह दो वक्त के रोटी का इंतजाम करने वाले गरीब परिवारों तक जब बिजली विभाग का 70 से 80 हजार रूपये तक का बिल पहुंचा तो उनकी आंखे चौधियां गई। मुश्किल यह कि वे इतनी बड़ी रकम चुकायेंगे कैसे। शुक्रवार को विद्युत वितरण खण्ड तृतीय अर्न्तगत कुदरहा विकास खण्ड के ग्राम पंचायत चकिया अर्न्तगत राजस्व ग्राम चकिया, पण्डोहिया गांव के लोगों ने ग्राम प्रधान गेंदा देवी के नेतृत्व में जिलाधिकारी के प्रशासनिक अधिकारी, अधीक्षण अभियन्ता और अधिशासी अभियन्ता विद्युत वितरण खण्ड तृतीय को ज्ञापन देकर मनगढन्त बिजली का बिल वापस लेने, बकाये में बिजली काट देने के मामलों की स्थलीय जांच, नये सिरे से व्यवहारिक बिजली बिल निर्गत किये जाने एवं कनेक्शन जोड़े जाने की मांग किया।
ग्राम प्रधान गेंदा देवी ने बताया कि विद्युत वितरण खण्ड तृतीय अर्न्तगत कुदरहा विकास खण्ड के ग्राम पंचायत चकिया अर्न्तगत राजस्व ग्राम चकिया, पण्डोहिया गांव में अत्यन्त गरीब परिवार जो नाम मात्र की बिजली का उपभोग करते हैं, उनके घरों पर भारी भरकम राशि का बिल पहुंचा दिया गया है जिसका भुगतान करने में वे असमर्थ है। विभाग नये सिरे से जांच कर व्यवहारिक विजली का बिल जारी करे।
ज्ञापन देने आये ग्रामीणों ने बताया कि सितम्बर 2020 माह में अचानक भारी भरकम बिजली का बिल थमा दिया गया। जैसे कोमल पुत्र चैतू पर 77290 रूपया, श्रीमती कुन्ता देवी पत्नी कल्लू पर 76926, श्रीराम सुमेर पुत्र सुक्खू पर 77299 का बिजली बिल दे दिया गया। इसी तरह से चकिया, पण्डोहिया गांव के 50 से अधिक विद्युत उपभोक्ताओं में मनमाने बिल जारी कर दिये गये और कनेक्शन भी काट दिया गया। गांव में अंधेरा है और लोग भारी भरकम बिल को लेकर परेशान होने के साथ ही उसे सुधारने के लिये अधिकारियों के कार्यालयों पर चक्कर काट रहे हैं।
ज्ञापन देने वालों में हृदयराम, राजाराम, राम मूरत, चौथी, भजई, रामायन, गुड्डू, कुन्ता देवी, प्रभावती देवी, विमला देवी, किशोर, नियामत, सुखई, कोमल, सोमरी, महेश, पल्टूराम, दशरथ, रामशकल, दुलारे, राम सजीवन, राम मिलन, नेवास, सागर, बरसाती, कपिलदेव, दसई, जगदीश, बाबूलाल, राम प्रकाश आदि शामिल रहे।