Sunday, April 14, 2024
उत्तर प्रदेशक्राइमक्षेत्रीय ख़बरेंखेलजॉब-करियरदेशबिज़नेसमनोरंजनराजनैतिकविदेशशिक्षाहेल्थ

पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी की हालत स्थिर, अभी भी वेंटिलेटर सपोर्ट पर

भारत के पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी की हालत स्थिर बनी हुई है. आर्मी रिसर्च एंड रेफरल अस्पताल की ओर से जारी मेडिकल बुलिटेन के मुताबिक, पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी की तबीयत में कोई बदलाव नहीं हुआ है. उनकी हालत स्थिर है और उन्हें अभी वेंटिलेटर सपोर्ट पर ही रखा गया है.

84 साल के पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी को सोमवार को दिल्ली के आर्मी रिसर्च एंड रेफरल अस्पताल में भर्ती कराया गया है. रिपोर्ट के मुताबिक, प्रणब मुखर्जी रविवार को दिल्ली स्थित अपने आवास के बाथरूम में गिरकर चोटिल हो गए थे. इसके बाद उनके मस्तिष्क में एक जगह पर खून का थक्का जम गया था. इस जमे खून को निकालने के लिए उनकी सर्जरी की गई थी.

की गई थी लाइफ सेविंग सर्जरी

इस जटिल सर्जरी के बाद पूर्व राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी को वेंटिलेटर पर रखा गया है. अस्पताल ने अपने मेडिकल बुलेटिन में कहा था कि 10 अगस्त को दोपहर 12 बजकर 7 मिनट पर उन्हें क्रिटिकल अवस्था में अस्पताल लाया गया था. जांच के दौरान उनके मस्तिष्क में एक बड़े खून के थक्के का पता चला, इसके लिए एक जटिल (लाइफ सेविंग) सर्जरी की गई थी.

कोरोना संक्रमित भी हैं प्रणब मुखर्जी

गौरतलब है कि तीन दिन पहले ही प्रणब मुखर्जी ने खुद ट्वीट कर जानकारी दी थी कि वो कोरोना वायरस पॉजिटिव पाए गए हैं. उन्हें अस्पताल में ब्रेन सर्जरी के लिए भर्ती कराया गया था, जहां ये सर्जरी खून के थक्के हटाने के लिए की गई. टेस्टिंग के दौरान ही उनकी कोरोना वायरस जांच रिपोर्ट पॉजिटव आई.